प्रतिबंधित कहुआ लकड़ी की कटाई व परिवहन का कार्य बदस्तूर जारी, मिलों में छुपा रखे हैं कहुआ लकड़ियों के गट्ठे,कार्यवाही शून्य



post

पब्लिक स्वर,अभनपुर।अभनपुर परिक्षेत्र सहित रायपुर जिले में कहुआ प्रतिबंधित लकड़ियों का अवैध कारोबार खुलेआम मिलों में चल रहा है। कहुआ लकड़ी की कटाई व भंडारण का भांडाफोड़ फिर से पब्लिक स्वर की टीम ने किया।फोटो में साफ दिख रहा है कि करोड़ों अरबों रुपयों की अवैध लकड़ी अभनपुर के राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित मिलों में पाई गई।इससे पहले भी पब्लिक स्वर ने कई बार मिलों सहित कहुआ की कालाबाजारी की खबरें प्रमुखता से प्रकाशित की लेकिन कार्यवाही के नाम पर जेब भरने का काम ही हुआ।इन सबसे साबित हो गया है कि माफियाओं की जी हुजूरी में लगे वन विभाग के तंत्र मंत्र पूरी तरह तहस नहस हो गए हैं। जाहिर है बिना अधिकारियों की संलिप्तता से करोड़ों अरबों के अवैध कार्यों को अंजाम देना असंभव है।

कार्यवाही के नाम पर अधिकारी पहुंचे और भारी संख्या में पड़े कहुआ लकड़ी को देखने के बाद भी कार्यवाही शून्य

पब्लिक स्वर की सकारात्मक मुहिम का अधिकारियों की जेब हुई भारी

विभागीय सूत्रों की मानें तो कहुआ लकड़ियों के अवैध कार्यों से जुड़ी खबरों का पब्लिक स्वर ने जितने बार प्रकाशन प्रकाशन किया उसका गहरा असर भी हुआ लेकिन अधिकारियों ने जमीनी स्तर पर पहुंच बड़े पैमाने पर लेन देन कर मामले को वहीं ठंडे बस्ते में डाल दिया।हाल ही में अभनपुर के मोहंदी में कहुआ लकड़ियों के बड़े जखीरे होने की खबर पब्लिक स्वर ने प्रकाशित की जिसमे अगले ही दिन पब्लिक स्वर के पत्रकार को रेंजर ने मोहंदी पहुंच लकड़ी का सटीक स्थान के बारे में जानकारी ली और वहां पहुंचे भी नतीजा ये हुआ कि 1 दिन के अंदर अंदर लगभग 50 ट्रैक्टर भर कर कहुआ लकड़ियों को भीतर खाने छुपा दिया गया।  खबर तो यहां तक है कि प्रकाशन के बाद डिप्टी रेंजर सहित विभाग के अधिकारी लकड़ी के अवैध परिवहन पर नकैल कसना की बजाय वहां वसूली की गई।यहां तक कि खबर प्रकाशित होने के बाद उड़न दस्ता की टीम भी वहां मौजूद रही लेकिन फिर भी कार्यवाही शून्य रही,जबकि उनके नाक के नीचे से दिन और रात कहुआ पेड़ों की कटाई कर अवैध परिवहन तकरीबन हर गांव से किया जा रहा है।


वन विभाग Cgforest कलेक्टर रायपुर वनमण्डलाधिकारी रायपुर cgnews raipurnews publicswarnews

You might also like!